Beauty

मुल्तानी मिट्टी के 15 जबरदस्त स्वास्थ्य लाभ

मुल्तानी मिट्टी के 15 जबरदस्त स्वास्थ्य लाभ 

मुल्तानी मिट्टी कोई साधारण मिट्टी न होकर विभिन्न खनिजों से मिलकर बनी होती है। मुल्तानी मिट्टी में मैग्नीशियम सिलिकेट, एल्युमिनियम सिलिकेट आदि कई खनिज पाये जाते हैं। मुल्तानी मिट्टी चट्टानों से प्राप्त होती है जिसमें एंटीबैक्टीरियल तथा एंटीसेप्टिक गुण पाये जाते हैं। मुल्तानी मिट्टी के समुचित उपयोग से चेहरे तथा बालों की विभिन्न सम्स्याएं नष्ट होकर सौन्दर्य बढ़ जाता है। मुल्तानी मिट्टी का उपयोग कई सौन्दर्य प्राडक्ट बनाने में किया जाता है। मुल्तानी मिट्टी की तासीर ठण्डी होती है इसलिए सर्दी, जुकाम, बुखार होने पर इसका उपयोग न किया जाय। मुल्तानी मिट्टी के बहुत से लाभ हैं। इस लेख में मुल्तानी मिट्टी के कुछ विशिष्ट लाभों पर प्रकाश डाला जा रहा है जिसका अध्ययन करके चेहरे तथा बालों का सौन्दर्य बढ़ाकर लाभ उठाया जा सकता है।

  1. मुल्तानी मिट्टी से मुहांसे नष्ट हो जाते हैः तीन चम्मच मुल्तानी मिट्टी, पांच से छः बूंद मुसम्मी का रस, तथा दो चम्मच शुध्द ताजे दही को आपस में फेंट कर अच्छी तरह से मिलाकर चेहरे पर लगाकर दो घण्टे के लिए छोड़ दें, छाया में बैठे। दो घण्टे बाद ठण्डे पानी से अच्छी तरह से धो लें। इस मिश्रण का प्रयोग सप्ताह में तीन बार करते हुए चार से पांच सप्ताह तक नियमित रूप से सेवन करने से चेहरे के कील मुहांसे नष्ट हो जाते हैं। चेहरे पर निखार आ जाता है।
  2. मुल्तानी मिट्टी से बालों की रूसी नष्ट हो जाती हैः तीन चम्मच मुल्तानी मिट्टी, दो चम्मच नीबू का रस तथा एक चम्मच सन्तरे के छिलके का पाउडर आपस में अच्छी तरह से मिलाकर पेस्ट बनाकर सिर तथा सम्पूर्ण बालों में अच्छी तरह से लगाकर धीरे-धीरे 5 मिनट तक मसाज करें तथा छाया में रहते हुए दो से ढाई घण्टे बाद अच्छी तरह से बाल सूख जाने पर ठण्डे पानी से अच्छी तरह से बालों को धुल दीजिए तथा बाल को छाया में सुखा लीजिए। इस मिश्रण का प्रयोग सप्ताह में दो से तीन बार करते हुए चार से पांच सप्ताह तक नियमित रूप से सेवन करने से बालों की रूसी नष्ट हो जाती है तथा बाल स्वस्थ हो जाते हैं।
  3. मुल्तानी मिट्टी से चेहरे से डेड सेल बाहर हो जाते हैं तथा त्वचा चमकने लगती हैः तीन चम्मच मुल्तानी मिट्टी, एक चम्मच चने का बेसन तथा आवश्यकता के अनुसार गुलाब जल लेकर आपस में अच्छी तरह से मिलाकर पेस्ट बनाकर चेहरे पर अच्छी तरह से लगाकर दो घण्टे बाद ठण्डे पानी से अच्छी तरह से चेहरे को धुल लें। इस मिश्रण का प्रयोग सप्ताह में दो से तीन बार करते हुए चार से पांच सप्ताह तक नियमित रूप से सेवन करने चेहरे से डेड सेल बाहर हो जाते हैं तथा त्वचा में चमक आ जाती है।
  4. मुल्तानी मिट्टी के सेवन से आंखों के किनारों के काले घेरे समाप्त हो जाते हैः दो-दो चम्मच मुल्तानी मिट्टी तथा दही और एक चम्मच सन्तरे का रस आपस में अच्छी तरह से घोंटकर पेस्ट तैयार कर के दोनों आखों के चारों तरफ लगायें तथा 30-35 मिनट बाद ठण्डे पानी से अच्छी तरह से धुल दें। इस मिश्रण का प्रयोग सप्ताह में तीन बार करते हुए नियमित रूप से चार से पांच सप्ताह तक करने से आंखों के चारों तरफ के काले घेरे समाप्त हो जाते हैं।
  5. मुल्तानी मिट्टी बालों को स्वस्थ रखती हैः चार चम्मच मुल्तानी मिट्टी को अलसी के तेल में मिलाकर अच्छी तरह से पेस्ट बनाकर सिर तथा बालों में अच्छी तरह से लगाकर 5 मिनट तक हल्के हाथों से धीरे-धीरे मसाज करें, दो से तीन घण्टे बाद ठण्डे पानी तथा सैम्पू से धोकर बाल को छाया में सुखा लें। इस मिश्रण का प्रयोग सप्ताह में तीन दिन करते हुए नियमित रूप से तीन से चार सप्ताह तक करने से बालों का डैंड्रफ नष्ट हो जाता है, बाल झड़ना बन्द हो जाते है तथा बाल मोटे, मुलायम, घने, लम्बे व स्वस्थ हो जाते है।
  6. मुल्तानी मिट्टी के सेवन से बालों का डैंड्रफ नष्ट हो जाता हैः तीन चम्मच मुल्तानी मिट्टी तथा आधा चम्मच सेंधा नमक तथा आवश्यकतानुसार गुलाब जल को आपस में मिलाकर बालों में लगाकर आधे घण्टे बाद ठण्डे पानी से धुल दें। इस मिश्रण का प्रयोग सप्ताह में तीन दिन करते हुए चार से पांच सप्ताह तक नियमित रूप से करने से बालों का डैंड्रफ नष्ट हो जाता है।
  7. मुल्तानी मिट्टी के सेवन से त्वचा गोरी तथा चमकदार हो जाती हैः दो चम्मच मुल्तानी मिट्टी, आधा चम्मच आंवला, आधा चम्मच हल्दी पाउडर तथा आवश्यकता के अनुसार टमाटर का रस आपस में अच्छी तरह से मिलाकर पेस्ट बनाकर चेहरे पर लगाकर 40 से 45 मिनट बाद ठण्डे पानी से अच्छी तरह धोयें। इस पैक का प्रयोग सप्ताह में तीन दिन करते हुए नियमित रूप से तीन से चार सप्ताह तक करने से चेहरे पर चमक आ जाती है तथा त्वचा गोरी हो जाती है।
  8. मुल्तानी मिट्टी के सेवन से त्वचा का रूखापन खत्म हो जाता हैः तीन चम्मच मुल्तानी मिट्टी, दो चम्मच शहद तथा आधा चम्मच नीबू का रस आपस में अच्छी तरह से मिलाकर पेस्ट बनाकर चेहरे पर लगाकर धीरे-धीरे दो मिनट तक मसाज करें तथा 30 मिनट बाद ठण्डे पानी से अच्छी तरह चेहरे को धोयें। इस मिश्रण का प्रयोग सप्ताह में तीन दिन करते हुए नियमित रूप से चार सप्ताह तक करने से चेहरे की त्वचा स्वस्थ तथा सुन्दर हो जाती है तथा त्वचा का रूखापन समाप्त हो जाता है।
  9. मुल्तानी मिट्टी के सेवन से चेहरे के दाग धब्बे समाप्त हो जाते हैः दो चम्मच मुल्तानी मिट्टी का चूर्ण, आधा चम्मच हल्दी पाउडर तथा आवश्यकतानुसार आलू का रस आपस में भलीभांति मिक्स करके पेस्ट तैयार कर के चेहरे पर लगायें तथा 40 से 45 मिनट के बाद ठण्डे पानी से अच्छी तरह से धो लें। इस पेस्ट का प्रयोग सप्ताह में तीन दिन करते हुए नियमित रूप से तीन से चार सप्ताह तक करने से चेहरे के दाग-धब्बे समाप्त हो जाते हैं तथा चेहरे साफ होकर चमकदार हो जाता है।
  10. मुल्तानी मिट्टी के सेवन से बाल झड़ना रूक जाता हैः तीन चम्मच मुल्तानी मिट्टी का पाउडर, दो चम्मच शहद तथा एक चम्मच गुलाब जल को आपस में मिलाकर पेस्ट तैयार करके सिर तथा बालों में अच्छी तरह से लगाकर धीरे-धीरे 5 मिनट तक मसाज करें। इसके एक घण्टे बाद ठण्डे पानी से अच्छी तरह से धुल दीजिए। इस पेस्ट का प्रयोग सप्ताह में तीन दिन करते हुए तीन से चार सप्ताह तक नियमित रूप से करने से बालों का झड़ना रूक जाता है, रूखापन समाप्त हो जाता है, बाल स्वस्थ, मुलायम, मोटे तथा रेशमी हो जाते हैं।
  11. मुल्तानी मिट्टी के सेवन से चेहरा गोरा हो जाता हैः चार चम्मच मुल्तानी मिट्टी का पाउडर, एक चम्मच हल्दी पाउडर, एक चम्मच चन्दन पाउडर तथा आवश्यकतानुसार गेहूं की दलिया लेकर आपस में भलाभांति मिलाकर पेस्ट बनाकर चेहरे पर लगाएं तथा 30-35 मिनट बाद ठण्डे पानी से अच्छी तरह से धुल दें। इस मिश्रण का प्रयोग सप्ताह में तीन दिन करते हुए नियमित रूप से तीन से चार सप्ताह तक करने से चेहरा गोरा व चमकदार हो जाता है तथा मुहासे ठीक हो जाते हैं।
  12. मुल्तानी मिट्टी के सेवन से बालों का डैंड्रफ नष्ट हो जाता हैः पानी में भिगोई हुई मेथी चार चम्मच, मुल्तानी मिट्टी पाउडर चार चम्मच और कागजी नीबू का रस एक चम्मच आपस में मिलाकर पेस्ट बनाकर सिर तथा बालों में अच्छी तरह से लगाकर एक घण्टे बाद शैम्पू तथा ठण्डे पानी से अच्छी तरह से धुल कर बाल को छाया में सुखायें। इस मिश्रण का प्रयोग सप्ताह में तीन बार करते हुए नियमित रूप से तीन से चार सप्ताह तक करने से बालों का डैंड्रफ समाप्त हो जाता है तथा बाल स्वस्थ व मुलायम हो जाते हैं।
  13. मुल्तानी मिट्टी के सेवन से चेहरे में निखार आ जाता हैः तीन चम्मच मुल्तानी मिट्टी, दो चम्मच नीम का तेल तथा आधा चम्मच हल्दी को आपस में मिक्स करके पेस्ट बनाकर चेहरे पर लगाकर एक घण्टे बाद ठण्डे पानी से अच्छी तरह से धुलें। इस पेस्ट का प्रयोग सप्ताह में तीन दिन करते हुए नियमित रूप से तीन से चार सप्ताह तक करने से चेहरे के कील, मुहासे नष्ट हो जाते हैं तथा त्वचा में निखार आ जाता है।
  14. मुल्तानी मिट्टी के सेवन से चेहरे का डार्कनेस समाप्त हो जाता हैः  दो-दो चम्मच मुल्तानी मिट्टी तथा गाय के दूध से बने दही को आपस में मिलाकर पेस्ट बनाकर चेहरे पर लगाकर 30-35 मिनट के बाद ठण्डे पानी से अच्छी तरह से चेहरे को धुल लें। इस पेस्ट को प्रत्येक तीसरे दिन इस्तेमाल करते हुए नियमित रूप से चार सप्ताह तक करने से चेहरे का डार्कनेस समाप्त हो जाता है तथा चेहरे पर रंगत आ जाती है।
  15. मुल्तानी मिट्टी के सेवन से कील मुहासे नष्ट हो जाते हैः दो चम्मच मुल्तानी मिट्टी का पाउडर, एक चम्मच नीम की पत्ती का पाउडर तथा आवश्यकतानुसार गुलाब जल आपस में मिलाकर पेस्ट तैयार करके चेहरे पर लगाकर दो मिनट तक मसाज करें तथा आधा घण्टे के बाद ठण्डे पानी से धुल दें। इस नुस्खे का प्रयोग प्रत्येक तीसरे दिन करते हुए नियमित रूप से तीन से चार सप्ताह तक करने से कील मुहासे नष्ट हो जाते है तथा त्वचा में निखार आ जाता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Would you like to receive notifications on latest updates? No Yes

AdBlock Detected

Please Consider Supporting Us By Disabling Your AD Blocker