Health

Ask your doctor to knock your socks off

Ask your doctor to knock your socks off

रिफ्लेक्सिस, ब्लड प्रेशर, आंखों की रोशनी और श्वसन-क्रिया आमतौर पर वार्षिक शारीरिक परीक्षा के दौरान जांची जाती है। परन्तु आजकल के व्यस्ततम दौर में लोगों द्वारा प्रायः चेकअप के दौरान  इसे नजरअंदाज कर दिया जाता है।  मनुष्य के पैर अक्सर गंभीर चिकित्सा स्थितियों के शुरुआती संकेत दिखाते हैं, जैसे- मधुमेह। यही कारण है कि अमेरिकन पोडियाट्रिक मेडिकल एसोसिएशन मधुमेह के जोखिम वाले लोगों से अपने नियमित चेकअप के दौरान पैरों की जांच के लिए आग्रह करता है।

Related Articles

डायबिटीज (मधुमेह) लगभग 18 मिलियन से अधिक अमेरिकियों को प्रभावित करता है कि वे अपने शरीर को इंसुलिन का उत्पादन करने या ठीक से उपयोग करने से रोकते हैं, जो शर्करा, स्टार्च और अन्य भोजन को ऊर्जा में परिवर्तित करने के लिए परम आवश्यक है।

अमेरिकी रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्रों के अनुसार- लगभग 5.2 मिलियन से अधिक अमेरिकी अनजान हैं वे मधुमेह के रोगी हैं और बीमारी के शुरुआती चेतावनी संकेतों को नहीं पहचानते हैं, जो आमतौर पर पैरों में होते हैं। डायबिटीज (मधुमेह) में जब बहुत देर हो जाती है, तो  अक्सर गंभीर परिणाम होते हैं जैसे-  हृदय रोग, स्ट्रोक, उच्च रक्तचाप, अंधापन, गुर्दे की बीमारी और यहां तक ​​कि विच्छेदन। शुरुआत में मधुमेह का पता लगाने के तरीके हैं, इससे पहले कि यह और अधिक नुकसान पहुंचाए।

एपीएमए के अध्यक्ष डॉ0 लॉयड स्मिथ के अनुसार, डायबिटीज (मधुमेह)  रोग की प्रारंभिक पहचान सर्वोपरि है और पैर की जांच के लिए अपने जूते-मोजे उतारना सरल है।  एपीएमए के अनुसार,- वार्षिक पैर की नियमित जांच  से डायबिटिक पैर के विच्छेदन को 85 प्रतिशत तक कम किया जा सकता है।

पैरों से संबंधित मधुमेह चेतावनी के संकेत निम्निलखित हैः-

  1. पैरों का लाल होना।
  2. पैरों में सूजन हो जाना।
  3. पैरों से रक्त संचार कम होने से ठंड महसूस होती है।
  4. पैरों का सुन्न होना।

उपरोक्त में से किसी भी संकेत के मिलने पर तत्काल चिकित्सक से सम्पर्क करके परामर्श कर समुचित इलाज करना चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

AdBlock Detected

Please Consider Supporting Us By Disabling Your AD Blocker