Others

मुंह के छाले दूर करने के घरेलू उपाय (Home remedies for Mouth ulcer)

मुंह के छाले दूर करने के घरेलू उपाय 

मुंह का छाला कोई गम्भीर समस्या नही है बल्कि आजकल के बदलते परिवेश में अनियमित दिनचर्या व दूषित खानपान के चलते मुंह के छाले की समस्या एक आम समस्या है। मुंह का छाला मुंह के अन्दरूनी भागों गाल, जिह्वा, मसूढ़ा या जबड़ों में कही भी हो जाता है। मुंह का छाला लाल या सफेद घाव की तरह होता है। मुंह के छाले को आयुर्वेद में मुखपाक कहा जाता है तथा एलोपैथ में माउथ अल्सर कहा जाता है। मुंह का छाला होने पर खाने-पीनें में काफी कठिनाई होती है। जबड़े या जिह्वा पर छाले हो जाने पर तो बोलनें में भी समस्या होने लगती है। मुंह के छालों को ठीक करने हेतु बाजार में मेडिकल स्टोर्स पर तमाम एलोपैथिक व होम्यौपैथिक दवाएं उपलब्ध हैं जिन्हे लेकर इस्तेमाल करने से मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं। कुछ घरेलू इलाज भी ऐसे हैं जिन्हे इस्तेमाल करने पर मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं परन्तु घरेलू इलाज से यदि मुंह के छाले ठीक नही हो रहे हैं एवं उनकी अवस्था बदल रही है तो तत्काल रजिस्टर्ड चिकित्सक से सम्पर्क करके इलाज करना चाहिए। प्रत्येक रोग के होने का कोई न कोई कारण तथा उस रोग से बचने का उपाय भी होता है जिन्हे अमल में लाने पर उस रोग के होने से ही बचा जा सकता है। मुंह के छाले होने के भी कई कारण हैं, मुंह के छाले से बचाव के उपाय भी हैं जिन्हे अमल में लाकर मुंह के छालों से बचा जा सकता है। इस लेख के माध्यम से मुंह के छाले होने के कारण, मुंह के छालों से बचने के उपाय तथा मुंह के छालों के घरेलू प्रभावशाली इलाज पर प्रकाश डाला जा रहा है। इस लेख का भलीभांति अध्ययन कर के उस पर अमल करते हुए मुंह के छालों से बचा जा सकता है तथा मुंह के छाले हो जाने पर उन्हें आसानी से दूर किया जा सकता है।

मुंह के छाले होने के कारणः

  1. पित्त दोष होना।
  2. पोषक तत्वों आयरन, जिंक व फालिक एसिड तथा विटामिन-B12 तथा विटामिन C की कमी हो जाना।
  3. पेट में कब्ज, गैस, एसिडिटी की समस्या होना।
  4. रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाना।
  5. आंत रोग जैसे- एल्सरेटिव कोलाइटिस, सीलिएक या क्रोन रोग का हो जाना।
  6. एच0 आई0 वी0 रोग हो जाना।
  7. अल्कोहल तथा निकोटीनयुक्त नशीले उत्पादों का सेवन किया जाना।
  8. तले, भुने तथा अधिक तीखे खाद्य पदार्थों का अधिक सेवन किया जाना।
  9. जिन खाद्य पदार्थों से एलर्जी हो, उन खाद्य पदार्थों का सेवन किया जाना।
  10. महिलाओं में मासिक धर्म के समय हार्मोन्स का बदलाव होना।
  11. कड़े ब्रस से दांतो को साफ करते समय खरोंच आ जाना।
  12. जल्दबाजी में खाना खाते समय स्वयं के दातों से ही होंठ (अन्दरूनी गाल) कट जाना।
  13. डिहाइड्रेशन तथा पेट की गर्मी।
  14. बुखार होना।
  15. तनाव तथा मुंह की ठीक से सफाई न रखना।

मुंह के छाले दूर करने के कुछ अति महत्वपूर्ण घरेलू उपायः

  1. तीन-तीन ग्राम कत्था, शीतलचीनी तथा छोटी इलायची और एक ग्राम नीला थोथा की भस्म आपस में मिला कर पीस कर कपड़े से छान लें। इस चूर्ण को दिन में तीन बार मुंह में छाले पर नियमित रूप से 3 से 5 दिन तक लगाने से मुंह का पुराना से पुराना छाला भी ठीक हो जाता है।
  2. मिश्री तथा कबाबचीनी समभाग लेकर मुंह मे रख कर चूसने से मुंह का छाला ठीक हो जाता है।
  3. मुलहठी तथा कत्था समभाग लेकर आपस में मिलाकर बारीक पीस लें। इस चूर्ण को शहद में मिलाकर मुह के छालों पर लगाने से छाले ठीक हो जाते हैं।
  4. एक गिलास गुनगुने पानी में टमाटर का रस मिलाकर दिन में 4-5 बार गरारा करने से मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं।
  5. सूखी धनिया, मिश्री तथा हरा पोदीना समभाग लेकर मुंह में रख कर धीरे-धीरे चबाये तथा लार बाहर थूकते रहें। ऐसा करने से मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं।
  6. मसूर की राख और कत्था समभाग लेकर आपस में मिलाकर पीस कर मुंह के छाले पर लगाने से मुंह के छाले ठीक हे जाते हैं।
  7. हरी धनिया चबाने से जिह्वा के छाले ठीक हो जाते हैं।
  8. एक लीटर पानी में 30-40 ग्राम बरगद की हरी छाल को मिलाकर उबालें। इस काढ़ें का दिन में 3-4 बार गरारा करने से मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं।
  9. पिसा हुआ वंशलोचन हल्दी चूर्ण में समभाग मिला कर लगाने से मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं।
  10. अमरूद तथा चमेली के पांच-पांच हरे पत्ते लेकर मुंह में रखकर धीरे-धीर चबाते हुए लार बाहर थूकते रहें। ऐसा करने से मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं।
  11. एक कप पानी में धनिया पाउडर मिलाकर उबालें, ठण्डा करें, गुनगुना होने पर दिन में 3-4 बार कुल्ला करने से मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं।
  12. नीली थोथा की भस्म तथा कत्था समभाग लेकर अपस में मिलाकर पीस कर रख लें। इस चूर्ण को पीना में मिला कर कुल्ला करने से मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं।
  13. गरम तवे पर सुहागा को रख कर फुला कर पीस कर उसमें थाड़ी से शहद मिलाकर दिन में 3-4 बार छालों पर लगाने से मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं।
  14. हल्दी चूर्ण को शहद में मिला कर छालों पर दिन में 4-5 बार लगाने से मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं।
  15. नारियल का तेल दिन में 3-4 बार लगाने से मुंह के छाले में काफी लाभ होता हैं।

मुंह के छालों से बचने के उपायः

  1. पेट का कब्ज दूर करें।
  2. तले, भुने, अधिक मसालेदार व अधिक तीखे भोजन से दूर रहें।
  3. सन्तुलित आहार लें।
  4. ग्रीन टी का सेवन करें।
  5. दूध तथा दूध से बने खाद्य पदार्थों मक्खन, पनीर आदि का अधिक सेवन किया जाय।
  6. मौसमी ताजे फल का सेवन किया जाय।
  7. हरी पत्तेदार रेशेदार सब्जियों का सेवन किया जाय।
  8. कुछ खाने के बाद मुंह की सफाई की जाय।
  9. पर्याप्त मात्रा में पानी पियें तथा 7-8 घण्टे की गहरी नींद ली जाय।
  10. भोजन में 30 प्रतिशत सलाद का सेवन किया जाय।
  11. नशीले पदार्थों जैसे- अल्कोहल, तम्बाकू, गुटखा आदि से दूर रहें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Alt Sehat Would you like to receive notifications on latest updates? No Yes

AdBlock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker