HealthOthers

टेलीविजन के फायदे और नुकसान

टेलीविजन के फायदे और नुकसान

टेलीविजन का आविष्कार वर्ष 1925 ई0 में प्रसिध्द वैज्ञानिक जे0 एल0 बैयर्ड ने किया था। प्रथम रंगीन टेलीविजन वर्ष 1940 ई0 में बनाया गया तथा राष्ट्रीय प्रसारण की शुरुआत 1982 ई0 में की गई। भारत का सबसे पुराना न्यूज चैनल डी0 डी0 न्यूज है। वर्तमान में भारत का सबसे बड़ा नेटवर्क चैनल समूह ई0 टी0 वी0 है। टेलीविजन को हिन्दी में दूरदर्शन कहा जाता है जो कि घर-घर में पाया जाता है तथा वर्तमान समय में मनोरंजन का सबसे सरल साधन है। टेलीविजन वर्तमान समय में मानव जीवन का अभिन्न अंग है जिसे बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक प्रतिदिन दिन देखते हैं जो कि देश दुनिया के खबरों को पलक झपकते ही पूरे देश में पहुंचा देता है। इस लेख के माध्यम से टेलीविजन (दूरदर्शन) से होने वाले फायदे तथा नुकसान को प्रस्तुत किया जा रहा है।

टेलीविजन के फायदेः

टेलीविजन से होने वाले प्रमुख फायदे निम्नलिखित हैः

  1. टेलीविजन मनोरंजन का अच्छा स्रोत हैः वर्तमान समय में टेलीविजन मनोरंजन का मुख्य स्रोत तथा सबसे बड़ा व वृहद् साधन है जिस पर बच्चे, बूढ़े, बुजुर्ग सभी के मनपसन्द चैनल दिखाये जाते हैं। टेलीविजन विभिन्न फिल्मों, कार्टून, संगीत, पर्यावरण कार्यक्रम, सरकार द्वारा चलाये जा रहे विभिन्न कार्यक्रमों, जनसभा, रैली आदि का प्रसारण करता है जिसे बच्चे, वयस्क तथा बुजुर्ग देख कर भरपूर मनोरंजन करते हैं।
  2. टेलीविजन व्यवसाय के व्यापक अवसर प्रदान करता हैः वर्तमान समय में टेलीविजन व्यवसाय के तमाम अवसर प्रदान करता है। टेलीविजन कम्पनियों में तमाम मकैनिको, मजदूरों को काम मिलता है जिससे वे अपना व अपने परिवार का भरण-पोंषण करते हैं। टेलीवजन बनने के बाद तमाम डीलर व  दुकानदारों की जीविका चलती है। टेलीविजन के विभिन्न चैनलों के समाचार एंकर, कैमरामैन, पत्रकार, सम्पादक आदि को व्यवसाय मिलता है जिससे तमाम लोगों व उनके परिजनों की जीविका चलती है। फिल्म, धारावाहिक तथा संगीत क्षेत्र से भारी मात्रा में जुड़ें लोगों को तथा उनके परिजनों की जीविका चलती है। इस प्रकार टेलीविजन व्यवसाय का भव सागर है।
  3. टेलीविजन शैक्षिक उद्देश्यों की भी पूर्ति करता हैः टेलीविजन पर प्रसारित किये जाने वाले शिक्षा सम्बन्धी चैनलों के प्रसारण को बच्चे देखते हैं, इतिहास, भूगोल, नागरिक शास्त्र, शिक्षा शास्त्र, कम्प्यूटर, भौतिकी, रसायन, जीव विज्ञान, भारतीय संस्कृति, विभिन्न प्राचीन सभ्यताओं आदि की जानकारी मिलती है। देश-विदेश में विभिन्न क्षेत्रों में हो रहे विभिन्न आविष्कारों तथा सरकार द्वारा चलाये जा रहे विविध कार्यक्रमों की जानकारी मिलती है जिससे ज्ञान में व्यापक बढ़ोत्तरी होती है।
  4. विज्ञापन देने का अवसर प्रदान करता हैः टेलीविजन के माध्यम से विभिन्न उत्पादों के बारे में विज्ञापन प्रसारित किये जाते हैं जिससे बाजार में उपलब्ध तथा भविष्य में बाजार में आने वाले उत्पादों के सम्बन्ध में जानकारी मिलती है जिससे उपभोक्तागण को उक्त उत्पादों को क्रय करके उसका उपभोग करते हैं। इस प्रकार टेलीविजन विज्ञापन देने का सहज एवं सरल अवसर प्रदान करता है।
  5. टेलीविजन सूचना का माध्यम हैः टेलीविजन पर विभिन्न समाचार चैनल आज तक, जी न्यूज, डी0 डी0 न्यूज, एन0 डी0 टी0 वी0, इण्डिया टी0 वी0 आदि अपडेट न्यूज प्रसारित करते हैं जिससे देश, विदेश को विभिन्न समाचारों के सम्बन्ध में जानकारी मिलती है। इस प्रकार टेलीविजन सूचना का सशक्त माध्यम है।
  6. जागरूकता फैलाता हैः टेलीविजन पर देश विदेश में होने वाली विशेष बीमारियों / महामारी के सम्बन्ध में जानकारी तथा उनके उपचार व रोकथाम के तरीकों के बारे में जानकारी मिलती है जिससे लोग उनके सम्बन्ध में जागरूक हो जाते हैं, सावधान हो जाते है तथा रोकथाम का प्रयास करने लगते हैं जिससे उक्त बीमारी / महामारी का प्रकोप रूक जाता है या उसका प्रसार कम हो जाता है। इस प्रकार टोलीविजन जागरूकता फैलाता है।

टेलीविजन के नुकसानः

लोग टेलीविजन देखने के आदी हो जाते हैं तो काफी देर तक टेलीविजन देखते हैं जिससे आंख में खराबी हो जाती है। समय बर्बाद होता है। बच्चों के प्रति लापरवाह हो जाते हैं जिससे परिवार से सदस्यों में दूरी भी बन सकती है। टेलीविजन पर दिखायी जा रही नग्नता, अश्लीलता, बेईमानी, हिंसा आदि का बच्चों पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। अनिद्रा की स्थिति उत्पन्न हो सकती है। स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Would you like to receive notifications on latest updates? No Yes

AdBlock Detected

Please Consider Supporting Us By Disabling Your AD Blocker